टेक्नोलॉजी के फायदे और नुकसान | Advantages And Disadvantages


 प्रौद्योगिकी / टेक्नोलॉजी के फायदे और नुकसान 

आज के समय में टेक्नोलॉजी हर जगह कामो को आसान बनती जा रही है और टेक्नोलॉजी के फायदे और नुकसान भी अलग अलग है ! आज के आर्टिकल में हम जानेंगे टेक्नोलॉजी के फायदे और नुकसान क्या क्या है, टेक्नोलॉजी के फायदे और नुकसान हमें किस तरह प्रभावित कर रहा है !

टेक्नोलॉजी से फायदे (ADVANTAGES  OF TECHNOLOGY IN HINDI)

घर बैठे टिकट बुकिंग - 

दोस्तों आजकल इंटरनेट के जमाने में टेक्नोलॉजी ने हमारे जीवन को बहुत ही सरल बना दिया है। अब तो घर बैठे ट्रेन, प्लेन, बस का टिकट बुक सकते है। इसके अलावा अब कई सारे ट्रेन की स्तिथि, विलंभ स्तिथि, अन्य जानकारी पा सकते है।

घर बैठे शिक्षाम -

अब विद्दार्थी कई प्रकार के कोर्स ऑनलाइन ही कर सकते है। जानकारों का कहना है की भारत में तीस साल बाद आने वाली टेक्नोलॉजी का दौर पहले ही आ गया है और इस तरह घर बैठे शिक्षा पाना संभव हुआ है। आज अनेक वेबसाइट, यूट्यूब पर कई शिक्षक पढ़ाने का काम कर रहे है। विद्दार्थी घर बैठे विडियो देखकर पढ़ाई कर सकते है। अब महंगी फीस देकर ट्यूशन, कोचिंग पढने की जरूरत भी नही रही ।

घर का काम हुआ आसान - 

ओवन, मिक्सर ग्राइंडर, रेफ्रीजरेटर, इन्डकशन चूल्हा जैसे उपकरण ने रसोई का काम सरल बना दिया है। आज की गृहिणी वाशिंग मशीन से कपड़े धोती है, इस बात से आप अंदाजा लगा सकते है की टेक्नोलॉजी ने हमारे काम को कितना आसन कर दिया है । इस तरह उसकी मेहनत बचती है। और यह सब केवल टेक्नोलॉजी की वजह से संभव हो पाया है !

घर घर में रोशनी - 

आज कल  LED तकनीक वाले बल्ब बाजार में आ गये है जो की बहुत कम बिजली लेकर अधिक रोशनी देते है। इस तरह बिजली की बचत होती है और देश के गाँव गाँव में बिजली पहुचाई जा रही है। लोगो के बिजली के खर्च में बचत हुई है। सौर ऊर्जा तकनीक का इस्तेमाल हर गाँव और शहर के लोग कर रहे है। सौर ऊर्जा तकनीक बेहद सस्ती और किफायती है। और सबसे अच्छी बात यह है की सरकार भी लोगो को सौर उर्जा के प्रति जागरूक करने के लिए कई सारी योजनाओ को लोगो तक पंहुचा रही है !

सस्ता ईधन - 

अब देश में अधिकतर महिलायें गैस पर खाना पकाने लगी है। इससे उनको निकलने वाली धुँआ का सामना नहीं करना पड़ता ,जिसकी वजह से उनके स्वास्थय में सुधार हुआ है। आधुनिक टेक्नोलॉजी की मदद से गैस के नये भंडारों की खोज हुई है। गोबर और कचरे से भी रसोई गैस बनाने की तकनीक बनाई जा रही है। जो लोगो को सहायता देने के साथ साथ पर्यावरण की सुरक्षा में भी मदद कर रही है !

रोगों से रक्षा - 

आजकल कई सारे रोग जैसे - अस्थमा, प्रसवपूर्व और प्रसवबाद के होने वाले रोग, हेपेटाईटिस, डेंगू, मलेरिया, खसरा, चिकनगुनिया, जापानी इन्सेफेलाइटिस, कैसर, यौन रोग, टीवी, शुगर जैसे असाध्य रोगों का इलाज ढूढ़ लिया गया है। आधुनिक चिकित्साशास्त्र के अंतर्गत रोज नये नये शोध और खोजे किये जा रहे हे है। इससे हमे बहुत लाभ हुआ है। चिकित्सा की नई टेक्नोलॉजी आ जाने से भारत में मृत्यु दर में काफी गिरावट आई है।

टेक्नोलॉजी से नुकसान (DISADVANTAGES  OF TECHNOLOGY IN HINDI)

आधुनिक समय में टेक्नोलॉजी के निम्न नुकसान है-

जानलेवा स्मार्ट फोन गेम्स - 

हिंसा, मारधाड़, खून- खराबे वाले विडियो गेम आजकल हर घरो में बच्चे खेल रहे है। pubg , मोमो जैसे गेम खेलकर कितने बच्चे आत्महत्या कर चुके है यह खबर कई जगहों पर देखने और सुनने को मिलता है । “ब्लू व्हेल” नाम का खेल खेलकर दुनियाभर में 250 बच्चे अपनी जान दे चुके है।

कई बार तो लगता है की काश हम टेक्नोलॉजी में इतना अधिक विकास ही नही करते तो अच्छा होता। इसलिए सभी बच्चो को सिर्फ शिक्षा और पढ़ाई के लिए फोन और कम्प्यूटर का इस्तेमाल करना चाहिये।

कम्प्यूटर और स्मार्ट फोन पर अश्लील सामग्री -

आज छोटे स्कूली बच्चो को भी स्मार्ट फोन, और इंटरनेट की लत लग गयी है। कम्प्यूटर, फोन का इस्तेमाल बच्चे अश्लील फिल्म, अश्लील साहित्य पढ़ने के लिए करने लगे है।

पढ़ाई का नुकसान -

जैसा की आप देख रहे है की आजकल बच्चे अपनी पढ़ाई पर ध्यान नही दे रहे है। वो सारा दिन फोन या कम्प्यूटर जैसी चीजो पर ही चिपके रहते है। बच्चे घर के कामो और जिम्मेदारी से भी बचने लगे है जो की हार्ट किसी के लिए परेशानी की बात है । सोशल मीडिया पर सारा समय नष्ट कर देते है, और कई हद तक बच्चे इन्टरनेट का सही उपयोग नहीं कर पाते !

वाही दूसरी ओर अपने कीमती समय का इस्तेमाल अगर बच्चे पढ़ाई में करे तो उनको बहुत फायदा होगा। उनका भविष्य उज्ज्वल बनेगा। फेसबुक, इन्स्टाग्राम, व्हाट्सअप जैसे सोशल मीडिया प्लेटफोर्म पर बच्चे ज्यादा वक्त चैटिंग और बेकार की जो उन्हें किसी भी तरह फायदा नहीं दे रहा ऐसी विडियो देखने में बिताने लगे है। इस तरह उनकी पढ़ाई का नुकसान हो रहा है।

बैंक अकाउंट से पैसो की चोरी - 

आजकल हैकर्स हमारे इंटरनेट बैंक अकाउंट के खाते को हैक करके पैसो की चोरी करते है। पहले तो हैकिंग ही केवल हैकरो के लिए एक मात्र जरिया था पर बढ़ते टेक्नोलॉजी की वजह से उनके पास विकल्प बढ़ गए है , आये दिन ऐसी खबरे आती रहती है। कुछ चोर ATM कार्ड बदलकर, क्लोन बनाकर हमारे पैसे चुरा लेते है। इस तरह टेक्नोलॉजी ने हमारी समस्याएँ भी बढ़ा दी है। आज लुटेरे और चोर हमे फर्जी काल करके परेशान करते है। हमारा बैंक अकाउंट नम्बर, पासवर्ड, OTP नम्बर पूछते है।

सोशल मीडिया का गलत इस्तेमाल - 

आजकल मनचले लड़के लड़कियों के साथ छेड़छाड़, बलात्कार, दुष्कर्म करते है, और फोन से विडियो बना लेते है। बाद में इस विडियो के द्वारा लड़कियों को ब्लैकमेल करके दुबारा से मनमानी करते है। जब लड़कियाँ मना करती है तो सोशल मीडिया पर ऐसे विडियो को वाइरल करने की धमकी देते है।

इस तरह से आज असामाजिक तत्व टेक्नोलॉजी का गलत फायदा उठाने लगे है। कई बार जब दुष्कर्म के विडियो फेसबुक, व्हाट्सअप पर वाइरल हो जाता है तो लड़कियाँ शर्म और बेइज्जती के कारण आत्महत्या तक कर लेती है। देश में अनेक लड़कियाँ ऐसा कर चुकी है।

दुर्घटनाये और बीमारियाँ - 

आजकल अनेक कम्पनियां सस्ते फोन बना रही है। आये दिन किसी न किसी ग्राहक का फोन बात करते समय फट जाता है और वो गंभीर रूप से घायल हो जाता है। इसके अलावा सीमा से अधिक मात्रा में फोन को अपने पास रखने से रेडिएशन से घातक बीमारियाँ हो रही है। कैंसर जैसे बिमारी फ़ैल रही है।


Age Calculator tools 2021 -वर्ष, महीने, सप्ताह, दिन, घंटे, मिनट और सेकंड

The Death Clock | अपनी मृत्यु तिथि का अनुमान लगाये