KYC क्या है ~ Puri Jankari Hindi Main


KYC क्या है और इसे कैसे करें?

KYC Kya Hai,KYC Ka Full Form Kya Hai, KYC Jankari Hindi Main

आज के समय में लगभग सभी लोगों के बैंक खाते जरूर होते है। लोग अपनी जमा पूंजी को बैंक में जमा भी करवाते है और साथ बैंकों द्वारा उपलब्ध कराई जाने वाली सभी प्रकार की सुविधाओं का फायदा भी उठाते है। बैंक या किसी भी फाइनेंसियल क्षेत्र में इन सुविधाओं से जुड़ने के लिए KYC बहुत ही आवश्यक है, साथ ही यह एक बहुत ही अहम प्रक्रिया है।

KYC Kya Hai ?

KYC एक ऐसी प्रक्रिया है जिसके द्वारा बैंक या कोई भी फाइनैंशल सेक्टर की कंपनी अपने ग्राहक से जरूरी डॉक्युमेंट्स के द्वारा एक फॉर्म भरवाकर ग्राहक की पहचान (Identity) और उसके पते (Address) की जानकारी प्राप्त करती है। इस प्रक्रिया द्वारा यह सुनिश्चित किया जाता है, की उस बैंक या कंपनी कि सेवाओं का दुरुपयोग नहीं किया जा रहा है। इस कारण बैंकों को समय-समय पर अपने ग्राहकों को केवाईसी अपडेट करने की भी आवश्यकता होती है।

अब आप यह तो जान ही गए होंगे कि केवाईसी क्या है, KYC का हिंदी में मतलब, अब हम आपको बताएंगे KYC Information in Hindi जिसमें आप जानेंगे केवाईसी कब आवश्यक है? और केवाईसी के लिए आवश्यक दस्तावेज कौन से है।

KYC Ka Full Form Kya Hai ?

यदि आप नहीं जानते कि केवाईसी फुल फॉर्म क्या है, तो हम आपको बता दें, Full Form Of KYC – “Know Your Customer” है। KYC Full Form in Hindi – “अपने ग्राहक को जानें” होता है।

KYC Jankari Hindi Main ?

क्या आप जानते हैं कि KYC क्यों महत्वपूर्ण है? चलिए हम बता देते है। कोई भी बैंक या कंपनी KYC प्रक्रिया के अंतर्गत, अपने ग्राहक के पते और उसके बारे में कुछ आवश्यक जानकारियाँ लेती है। यह इसलिए महत्वपूर्ण है, ताकि कोई व्यक्ति यदि धोखाधड़ी के इरादे से अपनी गलत पहचान बताता है, तो वह आसानी से पता चल सके। यह उस बैंक या कंपनी के लिए बहुत ही आवश्यक है क्योंकि यह अपराधिक गतिविधियों को कम करता है।

KYC के लिए आवश्यक दस्तावेज कौन से हैं?

KYC प्रक्रिया के दौरान ग्राहक को फॉर्म भरना होता है और उसके साथ वेरिफिकेशन के लिए कुछ आवश्यक दस्तावेज़ की प्रतिलिपि (Photocopy) अटैच करके जमा करनी होती है। KYC के लिए आपको नीचे दिए गए दस्तावेज़ों की आवश्यकता होती है –

  1. ड्राइविंग लाइसेंस (Driving License
  2. वोटर आईडी (Voter ID
  3. पासपोर्ट (Passport
  4. आधार कार्ड (Aadhaar Card
  5. पैन कार्ड (PAN Card)

Conclusion

केवाईसी (KYC) बैंक और कंपनी के लिए तो जरूरी है ही साथ ही यह आपके लिए भी उतना ही जरूरी है। यह इसलिए क्योंकि यदि भविष्य में आपके नाम से कोई और व्यक्ति जालसाजी करता है, तो वह पकड़ा जा सकता है। KYC प्रक्रिया में आप अपना सहयोग अवश्य प्रदान करें, यह आपका कर्तव्य है, और जिम्मेदारी भी।



कंप्यूटर नेटवर्क के लाभ और हानि ?
कम्प्यूटर नेटवर्क क्या हैं ?
ईमेल क्या हैं | ईमेल की विशेषताए और ईमेल की सीमाए |
कंप्यूटर की क्षमता पूरी जानकारी |
समाज पर इन्टरनेट का असर 2020 ?
इन्टरनेट क्या हैं ? इन्टरनेट का विकास |
व्हाट्सएप की सभी सेटिंग की पूरी जानकारियाँ
कंप्यूटर क्या हैं ? कंप्यूटर के 10 प्रमुख उपयोग