Search your topics.........

Thursday, 5 November 2020

कम्प्यूटर नेटवर्क क्या हैं ? कंप्यूटर नेटवर्क के लाभ और हानि ?

कम्प्यूटर नेटवर्क क्या हैं ? कंप्यूटर नेटवर्क के लाभ और हानि?

कम्प्यूटर नेटवर्क क्या हैं  कंप्यूटर नेटवर्क के लाभ और हानि

दो या दो से अधिक परस्पर जुड़े हुए कम्प्यूटर या अन्य डिजिटल युक्तियों और उन्हें जोडने वाली व्यवस्था को कंप्यूटर नेटवर्क कहते हैं। ये कम्प्यूटर आपस में इलेक्ट्रोनिक सूचना का आदान-प्रदान क‍र सकते हैं और आपस में तार या बेतार से जुडे रहते हैं। ... अलग अलग प्रकार की सूचनाओं के कार्यकुशल आदान-प्रदान के लिये विशेष प्रोटोकॉल हैं। कंप्यूटर नेटवर्क माडल और सॉफ्टवेयर अनुपस्थित होते हैं | प्रयोक्ता वास्तविक मशीन के सामने होते हैं यदि मशीन में अलग हार्डवेयर और अलग परिचालन प्रणाली है तो वह प्रयोक्ता के लिए पूर्ण रूप से दृश्य होते हैं |

नेटवर्क की आवश्यकता (Need of Network)

  1. यह संसाधनों जैसे सूचना या प्रोसेसर का वितरण प्रदान करता है। 

  2. यह प्रयोक्ताओं और प्रोसेसर के बीच आन्तरिक प्रक्रिया संवाद प्रदान करता है। 

  3. यह न्यूनतम लागत पर नेटवर्क प्रयोक्ता को अधिकतम प्रदर्शन प्रदान करता है।

  4. यह केन्द्रिकृत प्रबन्धन और नेटवर्क संसाधनों का आवंटन प्रदान करता है। 

  5. यह भौगोलिक रूप से वितरित प्रणाली के लिए एक केन्द्रिकृत नियन्त्रण प्रदान करता है। 

  6. यह असमान उपकरणों और सॉफ्टवेयरों के बीच संगतता (compatibility) प्रदान करता है।

कम्प्यूटर नेटवर्क के उपयोग (Uses of Computer Network)

  1. संसाधन बँटवारा (Resource Sharing) : प्रयोक्ताओं के लिए स्कैनर और प्रिन्टर जैसे हार्डवेयर आपस में बाँटने योग्य बनाता है। यह खरीदे गए हार्डवेयर आइटमों की संख्या को कम करके लाग मूल्य में कमी करता है। नेटवर्क पर संसाधन और प्रयोक्ता की भौगोलिक स्थिति से अप्रभावित रहते हुए किसी के लिए भी संसाधन उपलब्ध करता है।
    उदाहरण : प्रिन्टर, स्कैनर, CD बर्नर्स इत्यादि।

  2. सूचना बँटवारा (Information Sharing) : किसी अन्य यूजर के कम्प्यूटर पर संचित डेटा को प्रयोक्ता के लिए अभिगम (Accessible) योग्य बनाता है। यह नवीनतम डाटा के बारे में सबका अप-टू-डेट रखता है। यहाँ सब कुछ एक ही फाइल में रखा होता है, न कि फाइल की कॉपियां बनाने की आवश्यकता होती है, जो तुरन्त ही पुरानी भी हो जाती हैं।
    उदाहरण के लिए फाइल डेटाबेस, रिकॉर्ड इत्यादि।

  3. व्यक्ति से व्यक्ति संचार (Person to Person Communcation) : उदाहरण के लिए, ई-मेल (इलेक्ट्रॉनिक मेल) विडियो कॉन्फ्रेन्सिंग इत्यादि।

  4. इलेक्ट्रॉनिक व्यवसाय (Electronic Business) : प्रयोक्ता आवश्यकतानुसार इलेक्ट्रॉनिक माध्यम से माँग रख सकते हैं।

नेटवर्क के लाभ (Advantages of Network)

  1. सुरक्षा (Security) : एक नेटवर्क पर फाइलों और प्रोग्राम्स को "कॉपी इनहिबिट" की संज्ञा दी जा सकती है, ताकि आपको प्रोग्राम्स को अवैध रूप से कॉपी किए जाने के बारे में चिन्ता न करनी पड़े। साथ ही अधिकृत प्रयोक्ताओं के लिए एक्सेस को सीमित करने के लिए विशेष निर्देशिकाओं के लिए पासवर्ड की स्थापना की जा सकती है।

  2. लागत (Cost) : एकल रूप से अधिकृत (Individually Licensed) कॉपियों की तुलना में अधि कांश लोकप्रिय सॉफ्टवेयरों के नेटवर्क योग्य संस्करण बहुत ही कम मूल्य पर उपलब्ध हैं। पैसों की बचत के अलावा किसी नेटवर्क पर प्रोग्राम को आपस में बाँटना प्रोग्राम के सरल विकास के लिए मार्ग प्रशस्त करता है। केवल एक बार फाइल और सर्वर पर परिवर्तन करना है, न कि व्यक्तिगत वर्क स्टेशनों पर।

  3. गति (Speed) : नेटवर्क फाइलों को आपस में बाँटने और हस्तान्तरित करने के लिए एक बहुत तेज प्रक्रिया प्रदान करता है। नेटवर्क की अनुपस्थिति में फाइलों को फ्लॉपी डिस्क पर कॉपी करके परक कम्प्यूटर से दूसरे कम्प्यूटर पर भेजा जाता है। फाइलों को हस्तान्तरित करने की यह प्रक्रिया (जिसे स्नीकर-नेट कहा जाता है) बहुत ज्यादा समय लेती है।
  4. इलेक्ट्रॉनिक मेल (Electronic Mail) : किसी नेटवर्क की उपस्थिति एक ई-मेल प्रणाली को स्थापित करने के लिए आवश्यक हार्डवेयर प्रदान करती है । ई-मेल प्रणाली के कारण व्यक्ति से व्यक्ति के बीच संचार सरल हो जाता है।

  5. संसाधन बँटवारा (Resource Sharing) : संसाधनों का बँटवारा करना एक अन्य क्षेत्र है, जिसमें कि एक नेटवर्क एकल कम्प्यूटरों से आगे बढ़ जाता है। ज्यादातर संगठन प्रत्येक कम्प्यूटर के लिए पर्याप्त लेजर प्रिन्टर्स, फैक्स मशीन, मॉडेम्स, स्कैनर्स और सी. डी-रोम प्लैयर्स की व्यवस्था नहीं कर सकते हैं। यदि ये या इसी तरह के दूसरे बाहरी तत्व एक नेटवर्क से जोड़ दिए जाते हैं, तो वे कई प्रयोक्ताओं द्वारा इस्तेमाल किए जा सकते हैं।

नेटवर्क की हानियाँ (Disadvantages of Network)

  1. फाइल सर्वर असफल हो सकता है (File Server May Fall) : हालाँकि, किसी फाइल सर्वर के असफल होने की सम्भावना किसी भी दूसरे कम्प्यूटर की तुलना में ज्यादा नहीं है, परन्तु, जब फाइल सर्वर असफल हो जाता हैं तो पूरा नेटवर्क रुक जाता हैं पूरा का पूरा संगठन आवश्यक प्रोग्राम और फाइलों को पाने के मौके खो देता हैं |

  2. स्थापन में खर्चीला (Expensive to install) : यद्यपि एक नेटवर्क समय के साथ-साथ पैसे की बचत करता है, परन्तु, स्थापन का शुरूआती मूल्य अवरोधक हो सकता है। केबल, नेटवर्क कार्ड और सॉफ्टवेयर खर्चीले होते हैं और स्थापना में किसी तकनीकी विशेषज्ञ की सेवा की आवश्यकता पड़ सकती है।

  3. प्रशासकीय समय की आवश्यकता पड़ती है (Requires Administrative time) : नेटवर्क का उचित रख-रखाव व्यापक समय और विशेषज्ञता का मोहताज होता है।

इन्हें भी पढ़े :-

November 05, 2020moderntechnology.in

SHARE ON